रायपुर: 6000 विद्या मितान को विषय विशेषज्ञ शिक्षको के खाली पड़े 13000 पदों पर सीधी भर्ती किये जाने की मांग का समर्थन करते हुये प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा सरकार के कारण होनहार विषय विशेषज्ञ युवाओ का भविष्य खतरे में है। राज्य में अंग्रेजी गणित विज्ञान रसायन शास्त्र भौतिक बायोलॉजी जानकर युवा भाजपा सरकार के दग़ाबाज़ी का शिकार हो रहे है। राज्य में विषय विशेषज्ञ की कमी बताकर आउटसोर्सिंग के जरिए विशेषज्ञ शिक्षकों की भर्ती की जरूरत रमन सिंह सरकार ने प्रतिपादित की थी। आउटसोर्सिंग के माध्यम से विषय विशेषज्ञ शिक्षक बनने वाले विद्या मितान छत्तीसगढ़ से ही निकले। भाजपा सरकार के छत्तीसगढ़ में विषय विशेषज्ञ नहीं होने के झूठे दावों की पोल खुल गई। विद्या मितान अपनी मांग को लेकर आंदोलन कर रहे और रमन सिंह सरकार उनकी जायज मांगों को मानने के बजाय ढीला-ढाला रवैया अपना रही है। छत्तीसगढ़ में शिक्षा के गिरते स्तर के लिये प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने मुख्यमंत्री रमन सिंह सरकार की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार लगातार सरकारी स्कूलों में अव्यवस्था फैलाने का काम कर रही है यहां के पढ़े-लिखे नौजवानों को गुमराह करने के लिए एवं सरकारी स्कूलों में रिक्त पड़े 13000 से अधिक विषय विशेषज्ञ पदों की भर्ती करने से बचने के लिए आउटसोर्सिंग के माध्यम से भर्ती कर अपने समर्थित एजेंसियों को फायदा पहुंचाने में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि प्लेंसमेंट एजेंसी का 28 हजार प्रति शिक्षक वेतन सरकार के द्वारा भुगतान किया जाता है लेकिन स्कूल में पढ़ाने वाले शिक्षकों को ऐजेंन्सी 14-15 हजार दे रही है। जो पूर्णता अन्याय पूर्ण है और राज्य सरकार के कमीशनखोरी भ्रष्टाचार के कारण ही यहां के पढ़े-लिखे नौजवानों को उनका हक अधिकार नहीं मिल पा रहा है उन्होंने सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि आरएसएस की मानसिकता आरएसएस की नीति पर चलने वाली भाजपा के समर्थित एजेंसियों को फायदा पहुंचाने के लिए इस प्रकार के हथकंडे अपना रही है राज्य के युवा शिक्षा के क्षेत्र में जाकर नौनिहालों के भविष्य को उज्जवल बनाना चाहते हैं पर राज्य सरकार जिनके ऊपर सभी के भविष्य बनाने की जिम्मेदारी है खुद नहीं चाहते कि यहां के नौनिहालों के भविष्य बने और पढ़े लिखे नौजवानों को रोजगार मिले। भाजपा सरकार पूरे तरीके से शिक्षा का बाजारीकरण करने में तुली हुयी हैं। शिक्षा के स्तर को गिराकर निजी स्कूलों को फायदा पहुंचाने की कोशिशों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार लगी हुयी है। छत्तीसगढ़ में पूरी शिक्षा व्यवस्था अव्यवस्था का शिकार हो गयी है। 

19ff8342-3586-423e-b8e8-4e82eb9d1ab4
pg
2

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here