मो.रिजवान

वाराणसी: बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दाम को लेकर सामाजिक संस्था सुबह-ए-बनारस क्लब के बैनर तले संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल के नेतृत्व में शुक्रवार को पूर्वाचल की सबसे बड़ी खाद्य मंडी विशेश्वरगंज में ठेले पर बाईक रखकर लोगों ने उसकी आरती उतारी और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी किया।

लोगों ने कहा कि महंगे पेट्रोल के वजह से लोगों के जेब पर असर पड़ रहा है। बाईक की आरती उतार कर ईश्वर से प्रार्थना किया कि वहकेन्द्र सरकार को सदबुद्धि दें कि वह पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दरों पर एक्साइज ड्यूटी लगाकर अकूत कोष अर्जित करने का लालच छोड़कर अपने द्वारा किए गए ‘एक देश एक टैक्स’ के वादों को ध्यान में रखते हुए पेट्रोल और डीजल को भी जीएसटी के दायरे में लाए।

महंगाई की मार झेल रही जनता को महंगे पेट्रोल-डीजल की मार से कुछ राहत मिल सके। इस मौके पर संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल ने कहा कि 2014 के चुनाव के पहले विपक्ष में बैठने वाली वर्तमान सरकार पूर्ववर्ती सरकार के शासन में जब पेट्रोल-डीजल महंगा हुआ था तो उसे चुनावी मुद्दा बनाकर पूरे जोश-खरोश के साथ विरोध-प्रदर्शनकरते हुए सरकार को घेरने का काम की थी, लेकिनकेंद्र में सरकार बनने के बाद भाजपा अपने चुनावी अजेंडे को पूरी तरह से भूल गई है। पड़ोसी देशों में कम मूल्य पर पेट्रोल व डीजल बिक रहे हैं।

कार्यक्रम में मुख्य रुप से मुकेश जायसवाल, कोषाध्यक्ष नन्द कुमार टोपीवाले, चन्द शेखरचौधरी, अनिल केशरी, प्रदीप गुप्ता, सुनील अहमद खान, डा. मनोज यादव, विष्णु शर्मा, बल्लभ अग्रवाल, पंकज पाठक, नत्थूलाल सोनकर, संजू विश्वकर्मा, अभिषेक विश्वकर्मा, सुरेशसेठ, विजय जायसवाल, रामजी रस्तोगी, विकाश जायसवाल समेत आदि लोग शामील थें।

Untitled-3 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here