दुर्ग  : जी.पी.सिंह, पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज के निर्देशन में, आम जनता की सुविधा के लिये पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में सिटीजन काॅप सेल का गठन किया है। इस एप के माध्यम से कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत, बिना थाना आये दर्ज करा सकता है तथा संकट में अपना लोकेशन अपने परिचित तक पहुंचा सकता है। 

इस एप्लीकेशन का उपयोग करते हुए आम नागरिकों द्वारा मोबाइल फोन गुमने की सूचनायें लगातार दर्ज कराई जा रही है। इन शिकायतों को प्राथमिकता से संज्ञान में लेकर गुम मोबाइल को ट्रेस करने के  लिये आई.जी. सिंह द्वारा सिटीजन काॅप सेल को निर्देशित किया गया है। इस एप्लीकेशन के माध्यम से लोगों ने बस स्टेण्ड से, रेलवे स्टेशन, शापिंग माल, बाजार में खरीदारी के दौरान, सिनेमा हाल, स्कूल/कालेजों में परीक्षा के दौरान अथवा किसी वैवाहिक/पारिवारिक/सामाजिक कार्यक्रम के दौरान व भीडभाड वाले इलाके में किसी कार्यवश जाने के दौरान गुम होने की शिकायतें की है। 

तदनुसार सिटीजन काप की टीम द्वारा कुल 32 नग मोबाइल, केवल दुर्ग या आसपास के शहरों से ही नहीं बल्कि दिल्ली, महाराष्ट्र, आसाम, उत्तरप्रदेश, उडीसा एवं आंध्रप्रदेश के विभिन्न शहरों तक जाकर बरामद किया गया है। ये सभी बरामद मोबाइल फोन आज दिनांक 09.06.2018 को, रेंज पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग  जी. पी. सिंह द्वारा अपने कार्यालय में, उनके मूल मालिकों को सत्यापन उपरांत सौंपा गया।  सिंह ने इस अवसर पर कहा कि सिटीजन काॅप एप्लीकेशन आम नागरिकों को पुलिस से जोड़ने में एक ब्रिज का काम कर रहा है। मेरी नागरिकों से अपील है कि अपने आस-पास होने वाली अवैधानिक गतिविधियों की जानकारी सिटीजन काॅप के माध्यम से पुलिस तक पहुंचाये। उन्होंने बताया कि इस एप्लीकेशन के माध्यम से प्राप्त शिकायतों में प्राथमिकता से कार्यवाही की जाती है तथा शिकायतकर्ता की पहचान भी गोपनीय रखी जाती है।

पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में मोबाइल वापस मिलने से खुश लोगों ने रेंज पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग द्वारा प्रारंभ की गई इस योजना की तारीफ करते हुए कहा कि अक्सर लोगों की यह धारणा रहती है कि गुम मोबाइल अब बरामद नहीं होगा, किंतु इस एप्लीकेशन की कार्यप्रणाली से यह धारणा टूटी है तथा आम जनता में पुलिस के प्रति विश्वास को और मजबूती मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here