बलरामपुर : बलरामपुर जिले में रात होते ही खनन माफिया हो जाते हैं सक्रिय बड़े पैमाने पर सरकारी जमीन से करते है मिट्टी खुदाई। पढ़री रामनाथ मे रात होते ही शुरू हुआ मदारिया मदरसा के बगल बद्दापुर सरकारी तालाब की जमीन से अवैध मिट्टी खनन।दर्जनों ट्रैक्टर ट्राली और जेसीबी लेकर खुदाई करने पहुचे खनन माफिया।सरकारी जमीन से हो रहे मिट्टी खनन को रोकने गए ग्रामीणों को दबंगई से खनन माफियाओं ने धमकाकर भगाया। मिट्टी माफिया लाल बाबू निवासी अमारे भरिया, मोहरम अली, निवासी पढ़री रामनाथ, कासिम अली निवासी पढ़री रामनाथ की मिली भगत करके दबंगई से खुदवाकर सरकारी जमीन से बेचते है मिट्टी।

शैलेन्द्र बाबु

कुर्सी लगाकर मैन रोड पढ़री रामनाथ चौराहे पर हर ट्राली को फेरे के हिसाब से दिया जा रहा था टोकन। ग्रामीणो की सूचना पर पहुची मीडिया टीम को पहले धमकाया फिर रिश्वत का आरोप लगाया जब धमकाने और रिश्वत का इल्जाम लगाने पर भी दाल न गली तो ट्रैक्टर ट्राली jcb सब लेकर भाग खड़े हुए। सरकार ने किसानो को छूट क्या दी खनन माफिया ने सरकारी जमीन को ही अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया। जब मिट्टी खनन फ्री है तो रात के अधेरे मे ही क्यो दर्जनो गाड़ीया मिट्टी की खुदाई करती नजर आती है और हो रहे खनन के बारे मे जानकारी लेने पर भगदड मच जाती है और गाड़ीयो को लेकर भाग खडे होते है।खनन निरीक्षक के मिलीभगत से चल रहा है मिट्टी खनन का काला कारोबार कहते हैं हर प्रकार की मिट्टी फ्री। मिट्टी खनन माफिया सरकारी जमीन में करते है खुदाई। अभी हाल ही मे खनन माफिया के सामने नर्बस नजर आए थे जिले के एक जनप्रतिनीॆधि और पार्टी पदाधिकारी ,मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत करने की कही थी बात।उपरोक्त प्रकरण की जानकारी के लिए जिलाधिकारी बलरामपुर से दूरभाष पर संर्पक किया गया तो बेल जाती रही लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ। ऐसे में यह भी मालूम होता है कि कही न कही जिला प्रशासन की भी संलिप्तता भी खांनमे है।

Untitled-3 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here