नई दिल्ली : बीजिंग में साल 2019 की पहली सेना के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि चीन की सेना को लड़ाई के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि अप्रत्याशित संकट और युद्ध के लिए सेना तैयार रहे।

सेना के शीर्ष संगटन सेंट्रल मिलिट्री कमिशन (सीएमसी) की बैठक, जिसमें चीन के राष्ट्रपति अध्यक्ष भी है, उन्होंने कहा तेजी से और बड़ी तादाद में आधुनिकीकरण किए जा रहे पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) को खतरों, संकट और युद्ध को लेकर अपनी सतर्कता और बढ़ना चाहिए।

साल 2019 में चीन के राष्ट्रपति की तरफ से इसे पहले आदेश के तौर पर देखा जा रहा है, जहां उन्होंने इस साल आर्म्ड फोर्सेज की ट्रेनिंग के लिए मोबिलाइजेशन कमांड पर भी दस्तखत किए।

भारत के साथ सीमा विवाद पर सुलह के बाद राष्ट्रपति शी जिनपिंग का सेना को यह आदेश साउथ चाइन शी को लेकर कई देशों के साथ विवाद और चीन की तरफ से ताइवान के एकीकरण के चलते अमेरिका के साथ बढ़े तनाव के बीच आया है।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here