नई दिल्ली: दिल्ली के किशनगढ़ में पिता, मां और बहन की हत्या के आरोप में बेटे सूरज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उसने रात में 3 बजे चाकू से तीनों की हत्या की थी.

सूरज से पुलिस पूछताछ कर रही थी और वह सुबह से बरगला रहा था. उसने इंटरनेट पर जो कुछ सर्च किया था वह डिलीट कर दिया था. आरोपी बेटे ने पहले पिता का कत्ल किया फिर मां का और फिर बहन का. बहन काफी देर तक तड़पती भी रही.

सूरज ने हत्याओं के बाद कपड़े धोए. तमाम सबूत घर से बरामद कर लिए गए हैं. उसने जहां से चाकू खरीदा था उस दुकान से भी तस्दीक हो गई. सूरज रोजाना ड्रग्स, हुक्का की लत का आदी था.

सूरज दो दिन पहले मेहरौली इलाके से कैंची और चाकू लाया था. हत्या के बाद उसने अपने कपड़े धोये थे. आरोपी ने बताया कि देर से घर आने और दोस्तों को घर लाने पर घरवाले, खास तौर से पिता नाराज़ होते थे. कई बार पिटाई भी कर देते थे. सूरज नशे का आदी था. वह 12 वीं में फेल हो चुका था.

पुलिस को वारदात के बाद घर का दरवाजा अंदर से बंद मिला. कोई लूटपाट नहीं हुई लेकिन घर का सामान बिखरा था. यह सब सूरज ने पुलिस की जांच भटकाने के लिए किया था.

दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के किशनगढ़ इलाके में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की चाकू मारकर हत्या कर दी गई. यह घटना बुधवार को सुबह तकरीबन 5 बजे हुई. मिथिलेश, जो कि पेशे से कॉन्ट्रेक्टर थे, अपने परिवार के साथ दिल्‍ली के किशनगढ़ इलाके में रहते थे.

मिथिलेश (45), उसकी पत्नी सिया (42) और बेटी नेहा (16) की हत्‍या कर दी गई. मिथिलेश का 19 साल का बेटा मामूली रूप से घायल था. मिथिलेश के साले के मुताबिक, उनके बेटे का कुछ साल पहले अपहरण हुआ था. मिथिलेश जिस बिल्डिंग में रहता था उस बिल्डिंग में छह फ़्लैट हैं. मिथिलेश यूपी के कन्नौज का रहने वाला था.

पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखे. वारदात सुबह 5 बजे की है और बिल्डिंग का मेन गेट भी अंदर से बंद बताया गया. पुलिस ने मिथिलेश के बेटे से पुलिस ने पूछताछ की तो उसने गुनाह कबूल कर लिया.

Untitled-3 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here