बाजार में त्‍योहार की रंगत दिखने लगी है। घरों में साफ-सफाई का दौर अब खत्‍म होने वाला है। नए कपड़े खरीदे जा रहे हैं। 7 नवंबर को दिवाली है। लेकिन इससे पहले 5 नवंबर का दिन भी इस त्‍योहार के लिए बहुत महत्‍वपूर्ण है। कार्तिक मास की त्रयोदसी को धनतेरस होती है और इस बार यह 5 नवंबर को है। धनतेरस पर आम तौर पर सोना-चांदी खरीदने की प्रथा है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि इसके अलावा भी बहुत कुछ ऐसा है जिसको खरीदना शुभ माना जाता है। और हां, कुछ ऐसी भी चीजे हैं जिन्‍हें भूलवश भी धनतेरस पर नहीं खरीदना चाहिए।

ये सब खरीदें, इन्‍हें शुभ माना जाता है
धनतेरस के दिन सोना-चांदी के अलावा आप नए बर्तन खरीद सकते हैं, यह सबसे शुभ माना जाता है।
खासकर यदि चांदी के बर्तन खरीदे जाएं तो इसे चंद्रमा का प्रतिक माना जाता है, जो शीतलता प्रदान करता है।
धनतेरस के दिन घर में दक्षिणा वर्ती शंख लाना भी शुभ है।

आप रुद्राक्ष की माला भी खरीद सकते हैं।
इस दिन आप लक्ष्‍मी-गणेश की मूर्ति भी खरीद सकते हैं, जिनकी पूजा दिवाली के दिन की जाती है।
धनतेरस के दिन गाड़ी खरीदने को भी शुभ माना जाता है। लेकिन इसके अलावा मोबाइल, कंप्यूटर और बिजली के उपकरण खरीदना भी शुभ है।

मान्‍यता है कि स्फटिक का श्रीयंत्र खरीदने और घर लाने से मां लक्ष्मी प्रसन्‍न होती हैं। दिवाली के दिन इस स्‍फटिक श्रीयंत्र की पूजा जरूर करें और पूजा के बाद इसमें केसरिया कपड़े बांधकर तिजोरी या वहां रखें जहां आप पैसे रखते हैं।
धनतेरस के दिन आप नया झाड़ू भी खरीद सकते हैं। इसे साफ-सफाई और लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है।

गोमति च्रक भी खरीद सकते हैं। इसे एक कपड़े में बांधकर घर की तिजोरी में रखें।
क्‍या नहीं खरीदें… मान्‍यता है ये शुभ नहीं होते
धनतेरस के दिन तेल खरीदने से बचें।
काले रंग की वस्तुओं को खरीदने से बचना चाहिए।
धनतेरस के दिन शीशे की खरीदारी से बचना चाहिए। यदि किसी कारण वश शीशा खरीदना ही पड़ रहा हो तो ध्‍यान रखें कि शीशा पारदर्शी या धुंधला नहीं हो।

एल्युमीनियम के बर्तन धनतेरस पर खरीदना शुभ नहीं माना जाता। ग्रंथों के अनुसार एल्‍युमीनियम पर राहू का आधिपत्य होता है।
धनतेरस पर कोई भी नुकीला सामान जैसे चाकू, कैंची, छुरी और लोहे के बर्तन नहीं खरीदना चाहिए।

Untitled-3 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here