ऑस्ट्रेलिया ने वनडे सीरीज के पहले दो मैच हारने के बाद जोरदार वापसी की और अंतिम दो मैच जीत कर सीरीज को 2-2 से बराबर कर दिया। चौथे वनडे में मेहमान टीम ने 4 विकेट से रोमांचक जीत दर्ज की। एश्टन टर्नर ने शानदार 43 गेंदों पर 84 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिलाई। ऑस्ट्रेलिया ने 358 रनों का पीछा करते हुए मैच जीता और उधर भारत इस बात से निराश होगा कि वह इतने बड़े स्कोर का बचाव नहीं कर पाया।

 पांचवां मैच (India vs Australia) बुधवार (13 मार्च) को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में खेला जाना है। 

भारत ने सीरीज में पहले दो मैच जीत लिए थे, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने शानदार वापसी करते हुए अगले दो मैच जीतकर सीरीज में वापसी कर ली है। पांचवें मैच में ऑस्ट्रेलिया के पिछले दो मैचों के प्रदर्शन को देखते हुए मेहमान टीम का पलड़ा भारी माना जा रहा है। आइए देखते हैं पांचवें वनडे में भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन कैसी हो सकती है। 

रोहित शर्माः पिछले मैच में रोहित ने शानदार 95 रन की पारी खेली। रोहित एक बार फिर से अपने आक्रामक अंदाज में बड़ी पारी खेल कर भारत को सीरीज जितवाने का प्रयास करेंगे।

शिखर धवनः चौथे वनडे में 143 रनों की पारी खेलकर शिखर ने फॉर्म में आने का संकेत दे दिया है। हालांकि, धवन की इतनी बड़ी पारी भी टीम को जीत नहीं दिला सकी। 

केएल राहुलः राहुल ने 31 गेंदों पर 26 रन पिछले मैच में बनाए। राहुल को एक मौका और मिलेगा और वह इस मौके का भरपूर लाभ उठाना चाहेंगे। 

विराट कोहलीः पिछले मैच में अपवादस्वरूप कोहली असफल रहे। निर्णायक फाइनल में कोहली की भूमिका अहम होगी। कोहली ही दोनों टीमों के बीच अंतर साबित होंगे।

केदार जाधवः भारतीय ओपनिंग जोड़ी द्वारा दी गई अच्छी शुरुआत का जाधव लाभ नहीं उठा पाए। जाधव ने पहले वनडे में 81 रन की शानदार पारी खेली थी। अंतिम वनडे में भी जाधव बड़ी पारी खेलना चाहेंगे। 

ऋषभ पंतः पंत ने टीम के स्कोर को फिनिशिंग टच दिया और 36 रन बनाए, लेकिन वह एश्टन टर्नर को स्टंप आउट करने से चूक गए, यही चूक भारी पड़ी। टर्नर ने भारत से मैच छीन लिया। पिछले मैच में विकेटों के पीछे पंत का परफॉर्मेंस काफी खराब रहा था, जिसकी काफी आलोचना हुई। ऐसे में अब पंत आखिरी वनडे में अपना प्रदर्शन सुधारना चाहेंगे। 

विजय शंकरः शंकर ने बल्ले से अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन उन्हें अपनी गेंदबाजी पर काम करना होगा। शंकर की बल्लेबाजी में टाइमिंग अच्छी रही है।
 
रवींद्र जडेजाः जडेजा युजवेंद्र चहल की जगह प्लेइंग इलेवन में लौट सकते हैं। चहल ने 10 ओवरों में 80 रन देकर एक विकेट हासिल किया था। इस मैच के बाद कई क्रिकेट पंडितों ने चहल की आलोचना की थी। 

भुवनेश्वर कुमारः भुवनेश्वर ने अपना पहला स्पैल सफलतापूर्वक फेंका, लेकिन डेथ ओवरों में वह अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पाए। निर्णायक मैच में वह इसमें सुधार करना चाहेंगे।

कुलदीप यादवः भारत के ‘चाइनामैन’ गेंदबाद ने टीम इंडिया में खेलते हुए शानदार गेंदबाजी की है। यह गेंदबाज फाइनल वनडे में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। 

जसप्रीत बुमराहः पिछले मैच में जसप्रीत बुमराह ने 3 विकेट लिए, लेकिन अन्य गेंदबाजों की तरह उन्होंने भी रन खूब खर्च किए। अंतिम मैच में जसप्रीत बुमराह इसमें सुधार करना चाहेंगे।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here