नई दिल्ली : आईपीएल के 12वें सीजन के लिए आज जयुपर में 346 खिलाडि़यों पर बोली लगाई जाएगी. जिसमें से 70 खिलाड़ी ही चुने जाएंगे. ऑक्शन में सभी 8 फ्रेंचाइजी मिलकर कुल 50 भारतीय और 20 विदेशी खिलाड़ी ही खरीद पाएंगी.

नीलामी में पहली बार नहीं सुनाई देगी इनकी आवाज​:इस बार नई जगह पर हो गई नीलामी में कुछ चीजें पहली बार भी देखने को मिलेगी. जहां पहली बार नीलामी की जगह बदली गई है और समय भी बदला गया है. इस बार नीलामी सुबह की बजार दोपहर में हो रही है. एक जो सबसे बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा, वो है ऑक्‍शनीर.पिछले 11 सालों से लोग जिस ऑक्‍शनीर की आवाज से भली भांति परिचित थे, इस बार वह आवाज सुनने को नहीं मिलेगी. ऑक्‍शनीर रिचर्ड मेडली की जगह इस बार ह्यूज एडमेड्स होंगे. 

  • किंग्‍स इलेवन पंजाब के पर्स में सबसे अधिक पैसा हैं और वह इस बल्‍लेबाज को हाथ से जाने नहीं देना चाहती. लगातर वह अपनी बोली बढ़ा रही हैं. चार करोड़ से उपर पहुंच गई है हेटमायेर की कीमत

  • हेटमायेर सीएल ने शतक जड़ने वाले सबसे युवा खिलाड़ी हैं. यह अच्‍छे फिशिनर भी हैं. इसकी इसी खूबी के चलते उनकी कीमत 3 करोड़ से उपर पहुंच गई हैं.

  • शिरमोन हेटमायेर पर बोली लग रही हैं और उनकी डिमांड भी अच्‍छी खासी दिख रही हैं.

  • दिल्‍ली कैपिटल ने बाजी मार ली और हनुमा विहारी दो कराड़ रुपए में दिल्‍ली में शामिल हो गए है.

  • मुंबई इंडियंस और दिल्‍ली के बीच हनुमा को लेकर लगातर बोली लग रही है.

  • हनुमा की बेस प्राइस 50 लाख रुपए हैं. उनकी कीमत 1.80 करोड़ के करीब पहुंच गई हैं.

  • हनुमा विहारी पर बोली लग रही हैं. फ्रेंचाइजी उनके दिलचस्‍पी दिखा रही है.

  • टेस्‍ट स्‍पेशलिस्‍ट पुजारा अनसॉल्‍ड रहे

  • दूसरे चेतेश्‍वर पुजारा हैं

  • नीलामी में सबसे पहले बोली लग रही है मनोज तिवारी पर, जिनकी बेस

  • प्राइस 50 लाख  रुपए हैं. 13 टी20 मैच में 180 रन बनाए हैं.

  • नीलामी शुरू हो गई है.

  • मनोज तिवारी के लिए किसी फ्रेंचाइजी ने रुचि नहीं दिखाई. अनसॉल्‍ड रहे

पंजाब के पास 10 और कोलकाता नाइट राइडर्स के पास अभी 13 खिलाड़ी हैं. लेकिन चेन्‍नई सुपर किंग्‍स और सनराइजर्स हैदराबाद के पास 23 और 20 खिलाड़ी हैं. इन दोनों साउथ इंडियन टीम के पर्स में सबसे कम रुपए हें. चेन्‍नई के पास 8.4 और हैदराबाद के पास 9.7 करोड़ रुपए हैं.

सभी फ्रेंचाइजियों के पास 18 से 25 के बीच खिलाड़ी होने चाहिए. जिसमें ज्‍यादा से ज्‍यादा 8 ही विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं. किंग्‍स इलेवन पंजाब, दिल्‍ली कैपिटल्‍स, रॉयल चैलेंजर बैंगलुरु, राजस्‍थान रॉयल्‍स, मुंबई इंडियंस के पर्स में काफी पैसा है, लेकिन उन्‍हें ज्‍यादा खिलाड़ी भी खरीदने की जरुरत हैं. 

इस ऑक्‍शन में 13 देशों के खिलाडि़यों पर बोली लगाई जाएगीह. भारत – 226 खिलाड़ी, साउथ अफ्रीका – 26 खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया – 23 खिलाड़ी वेस्टइंडीज – 18 खिलाड़ी इंग्लैंड – 18 खिलाड़ी न्यूजीलैंड – 13 खिलाड़ी अफगानिस्तान – आठ खिलाड़ी श्रीलंका – सात खिलाड़ी बांग्लादेश – दो खिलाड़ी जिम्बाब्वे – दो खिलाड़ी यूएसए – एक खिलाड़ी आयरलैंड – एक खिलाड़ी नेदरलैंड्स – एक खिलाड़ी.

आईपीएल के 2019 के सीजन के लिए 1003 खिलाड़ियों ने खुद को रजिस्टर कराया था. वहीं इनमें से 346 खिलाड़ियों का चयन ऑक्शन के लिए किया गया है. इस ऑक्शन में कुल 346 खिलाड़ियों के नाम बोली लगने वाली है, जिसमें से 70 खिलाड़ी ही चुने जाएंगे. ऑक्शन में सभी 8 फ्रेंचाइजी मिलकर कुल 50 भारतीय और 20 विदेशी खिलाड़ी ही खरीद पाएंगी. सभी टीमों के पास कुल 145 करोड़ 25 लाख रुपए हैं जिससे वो अपने मनपसंद खिलाड़ी खरीद सकते हैं. इनमें से नौ खिलाड़ी ऐसे हैं जिनका बेस प्राइस दो करोड़ है. इन नौ खिलाड़ियों में ब्रेंडन मैक्ललम, क्रिस वोक्स, लसिथ मलिंगा, कॉलिन इनगराम, शॉन मार्श, कोरी एंडरसन, सैम करन, एंजेलो मैथ्यूज और शॉट शामिल हैं.

किसी भी भारतीय खिलाड़ी का बेस प्राइस दो करोड़ नहीं है. भारत की ओर से सबसे अधिक बेस प्राइस वाले खिलाड़ी जयदेव उनाद्कट हैं जिनका बेस प्राइस 1.5 करोड़ है. वहीं युवराज सिंह. ऋद्धिमान साहा, युवराज सिंह, मोहम्मद शमी और अक्षर पटेल एक करोड़ बेस प्राइस ब्रेकेट में है. बांग्लादेश की ओर से केवल दो ही खिलाड़ी मुश्फिकुर रहमान और महमुद्ललाह इस लिस्ट में शामिल है.

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here