दुबई। श्रीलंका के पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने आचार संहिता के उल्लंघन के लिये मंगलवार को दो साल का प्रतिबंध लगा दिया। जयसूर्या ने स्वीकार किया था कि उन्होंने सबूतों से छेड़छाड़ करके भ्रष्टाचार रोधी जांच में बाधा पहुंचायी थी। उन्हें आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधक इकाई (एसीयू) संहिता के दो अनुच्छेदों के उल्लंघन का दोषी पाया गया है।

आईसीसी ने कहा, ‘‘उनकी स्वीकारोक्ति के बाद उन्होंने दो साल का प्रतिबंध भी स्वीकार कर लिया है।’’जयसूर्या श्रीलंका की 1996 विश्व कप विजेता टीम के अहम सदस्य थे। इसके बाद वह दो बार चयनसमिति के अध्यक्ष भी रहे। श्रीलंकाई क्रिकेट में बड़े स्तर पर फैले भ्रष्टाचार की आईसीसी की जांच के दौरान जयसूर्या से पूछताछ की गयी थी।

जयसूर्या को आईसीसी आचार संहिता के अनुच्छेद 2.4.6 और 2.4.7 के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। इसमें अनुच्छेद 2.4.6 ‘‘बिना किसी उचित कारण के एसीयू की किसी जांच में सहयोग नहीं करना या उसमें नाकाम रहने’ तथा अनुच्छेद 2.4.7 ‘‘एसीयू की किसी जांच में देरी या बाधा पहुंचाने ’’ से संबंधित हैं।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here