मुरसलीम खान

छतरपुर। अब पासपोर्ट बनवाने के लिए लोगों को भोपाल या इंदौर में स्थित पासपोर्ट सेवा कार्यालय में जाकर अपने दस्तावेजों का सत्यापन नहीं कराना पड़ेगा। यह सुविधा आज से छतरपुर के प्रमुख डाकघर में शुरू किए गए पासपोर्ट सेवा केन्द्र में ही उपलब्ध हो जाएगी। रविवार को केन्द्रीय राज्यमंत्री वीरेन्द्र कुमार के मुख्य आतिथ्य में इस पासपोर्ट सेवा केन्द्र का उद्घाटन किया गया। कार्यक्रम में क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी भोपाल रश्मि बघेल, पोस्ट मास्टर जनरल जबलपुर डॉ. विद्यासागर रेड्डी, नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना सिंह व भाजपा के जिला महामंत्री जयराम चतुर्वेदी बतौर अतिथि शामिल हुए।
विदेश जाने के लिए संजीवनी का काम करेगा यह केन्द्र
इस अवसर पर मुख्य अतिथि केन्द्रीय राज्यमंत्री वीरेन्द्र कुमार ने कहा कि मोदी सरकार के पूर्व देश में 77 पासपोर्ट सेवा केन्द्र थे। हमारी सरकार ने सिर्फ साढ़े 4 साल में देश भर में 335 अन्य पासपोर्ट सेवा केन्द्र भी शुरू कराए हैं। सुबह टीकमगढ़ में 14वेंं एवं शाम को छतरपुर में 15वें पासपोर्ट सेवा केन्द्र का शुभारंभ किया गया है। उन्होंने कहा कि छतरपुर में यह सुविधा शुरू होने से लोगों को विदेश जाने में बड़ी सहूलियत मिलेगी। क्षेत्र से बहुत सारे लोग इलाज कराने, पढ़ाई करने, जॉब करने, मुस्लिम वर्ग के लोग हज करने या व्यवसायी वर्ग व्यापार करने व पर्यटक विदेश जाते हैं। ऐसे लोगों को अब छतरपुर में ही अपने पासपोर्ट बनवाने के पूर्व सिर्फ एक बार दस्तावेजों का परीक्षण कराना होगा और पासपोर्ट बनकर उनके घर पहुंच जाएगा। उन्होंने कहा कि छतरपुर में पासपोर्ट सेवा केन्द्र स्थापित कराने में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज एवं केन्द्रीय डाक मंत्री मनोज सिन्हा की विशेष भूमिका है। आमतौर पर सभी सांसदों के क्षेत्र में एक स्थान पर पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जाने की योजना थी किन्तु स्वराज ने उनके आग्रह पर छतरपुर एवं टीकमगढ़ दोनों जिलों में यह सौगात दी है। उन्होंने कहा कि अब तक 50 लोग विदेश जाने की सोचते थे लेकिन अब 500 लोग विदेश जाने पर विचार करेंगे।
इस तरह बन सकेंगे आपके पासपोर्ट
कार्यक्रम में भोपाल से आईं क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी रश्मि बघेल ने बताया कि सरकार ने पासपोर्ट बनवाने का काम पूरी तरह ऑनलाईन और सरल कर दिया है। आपको विदेश मंत्रालय की बेवसाईट पासपोर्ट इंडिया गवर्मेंट डॉट इन अथवा मोबाइल एप्लीकेशन एम पासपोर्ट सेवा के माध्यम से ऑनलाईन पासपोर्ट को एप्लाई करना होगा। आवेदन करने की फीस भी मोबाइल से ही ऑनलाईन ली जाएगी। आवेदन होते ही मोबाइल पर दस्तावेजों के सत्यापन हेतु तिथि और समय का अप्वाइंटमेंट आवेदक को मिल जाएगा। बताए गए समय पर आवेदक को अपने दस्तावेजों के साथ पासपोर्ट सेवा केन्द्र में जाना है एवं दस्तावेजों के परीक्षण के बाद पुलिस वैरीफिकेशन की प्रक्रिया होगी। लगभग 15 दिन के भीतर आपका पासपोर्ट आपके पते पर पहुंच जाएगा। उन्होंने बताया कि छतरपुर पासपोर्ट सेवा केन्द्र से सिर्फ सामान्य पासपोर्ट बनाए जाएंगे। तत्काल प्रक्रिया के पासपोर्ट अब भी भोपाल और इंदौर से बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस सेवा के लिए हमारा कोई अन्य अधिकृत एजेंट नहीं है इसलिए आप स्वयं ही मोबाइल से इस प्रक्रिया के द्वारा पासपोर्ट का आवेदन डाल सकते हैं। कार्यक्रम के दौरान नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना सिंह ने इस सौगात को दिलाने वाले सांसद वीरेन्द्र कुमार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वे खुद भी अपना पासपोर्ट आवेदन कल ही डालेंगी। कार्यक्रम के दौरान डॉ. विद्यासागर रेड्डी ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन डाक अधिकारी मनोज सिंह ने किया। इस अवसर पर एसपी तिलक सिंह, भाजपा नेता विवेक उप्पल सहित कई अन्य नेता भी उपस्थित रहे।
कांग्रेसियों ने बनाई दूरी
छतरपुर में पासपोर्ट सेवा केन्द्र के कार्यक्रम में विभाग के द्वारा क्षेत्रीय विधायक आलोक चतुर्वेदी एवं प्रभारी मंत्री ब्रजेन्द्र सिंह राठौर को भी आमंत्रित किया गया था किन्तु उक्त कार्यक्रम में सिर्फ भाजपाई नजर आए। कांग्रेसी नेता इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे।

Untitled-3 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here