राजन पाण्डेय 

बैकुंठपुर / सोनहत : मुरैरगढ क्रिकेट टूर्नामेंट को फायनल मुकाबला बेहद रोमांचक रहा, मैच आखरी गेंद तक रोमांचित कर देने वाला था, अंतिम गेंद पर बीएलसीसी धनपुरी को 4 रन चाहिए थे और मगर ओपीएम बुढार ने क्रिज पर टिके खिलाडी को बोल्ड कर मैच और खिताब अपने नाम कर लिया। 24 दिसंबर को टूर्नामेंट का शुभारंभ नव निर्वाचित विधायक गुलाब कमरों ने किया था।
आयेाजन के संबंध में आयोजक कर्ता अंकुर प्रताप सिंह ने बताया कि हर वर्ष होने वाले इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य है वनो को बचाना आयोजन से जोडे रखने के लिए दूर दूर वनांचल क्षेत्र के युवाओं को शामिल किया जाता है, जुडे युवा भी इस आयोजन से मुख्य धारा में सामने आ रहे है।
जानकारी के अनुसार प्रति वर्ष भरतपुर के जनपद मुख्यालय जनकपुर में आयोजित होने वाले मुरैरगढ क्रिकेट टूर्नामेंट के फायनल मैच का शुभारंभ मुख्य अतिथी एसडीएम एएस पैकरा, तहसीलदार मनमोहन सिंह, जनपद सीईओ भूपेन्द्र सोनवानी, भाजपा के वरिष्ठ नेता दुर्गा शंकर मिश्रा, रेंजर कमलेश दुबे, बीईओ विनीत सिंह, शिक्षाकर्मी संघ के जिला अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह, तीरथ शुक्ला, सोनहत से राजन पांडेय के साथ कार्यक्रम के बैकुंठपुर के पत्रकार चंद्रकांत पारगीर की उपस्थिति में संपन्न हुआ।
फायनल मुकाबला बेहद रोमांचक रहा, पहले टॉस जीत कर ओपीएम बुढार ने पहले बल्लेबाजी की, निर्धारित 20 ओवर में 193 रन बनाए, जिसके बाद बैटिंग करने आई बीएलसीसी धनपुरी ने मैच को अंतिम गेंद तक ले गए, उनके 8 खिलाडी आउट हो चुके थे, एक ओवर में 8 रन चाहिए थे, बाद में अंतिम गेंद पर 4 रन बनाने थे, परन्तु ओपीएम के गेंदबाज ने उक्त खिलाडी को बोल्ड कर खिलाफ और मैच अपने नाम कर दिया, बीएलसीसी धनपुरी पिछले वर्ष के विजेता रहे थे और इस वर्ष उन्हें उप विजेता का खिताब मिला, जबकि इस टूर्नामेट में पहली बार शिरकत करने वाली ओपीएम बुढार की टीम ने विजेता का खिताब अपेन नाम किया। गौरतलब है कि मुरैरगढ क्रिकेट टूर्नामेंट बीते 8 वर्षो से अनवरत जारी है, इसमें मप्र और छत्तीगसढ की कई अंर्तरराज्यीय टीमें हिस्सा लेती है। इस आयोजन के मुख्य सूत्रधार अंकुर प्रताप सिंह और उनकी युवा टीम है, इस वर्ष आयोजित इस टूर्नामेंट में मप्र और छत्तीसगढ की 18 टीमों ने शिरकत की।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here