मो.रिज़वान

बनारस। होली के त्यौहार पर मिठाइयों की बहुत खपत होती है। ऐसे में आम कई दुकानदारों द्वारा मिलावट करके आम जान मानस के स्वास्थ्य से भी खिलवाड़ होता है। इसी मिलावट को रोकने के लिए वाराणसी के खाद्य सुरक्षा और औषधि प्रशासन की टीम ने शहर की चौक थानांतर्गत खोआ मंडी में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान एक दुकानदार ने सूबे के राजयमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी की धौंस दिखानी शुरू की और सैंपल लेने आये अधिकारियों से उलझ गया।

चौक थानांतर्गत खोआ मंडी में होली पर्व के पहले खाद्य सुरक्षा और औषधि प्रशासन की टीम ने जबरदस्‍त छापेमारी की। इस दौरान एक दुकान पर सैंपल पैक करने के दौरान उनकी एक दुकानदार कुश अग्रहरि से बहस भी हो गयी। इस दौरान दुकानदार ने अधिकारियों को राज्य मंत्री नीलकंठ तिवारी की धौस भी दिखाई और कहा कि ”नीलकंठ के फोन लगावा त, हम बतियाईं।” बावजूद इसके खाद्य सुरक्षा अफसरों ने एक न सुनी और सैंपल सील कर लिया।


इस दौरान दुकानदार बार बार राज्‍य मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी को फोन लगाने की बात करते रहे। इधर टीम बेख़ौफ़ होकर सैम्पल पैक किये जा रही थी। इसके बाद थक हारकर दुकानदार ने दूसरा पैतरा खेला और कहा कि हमें 24 घंटे के भीतर ही रिपोर्ट चाहिए हमारे सैम्पल की। वहीं जब अधिकारी ने पूछा की आप की दूकान का लाइसेंस है तो बोले की लाइसेंस नहीं है, सड़क की दूकान है।

इस पूरी कार्रवाई के बाद जनपद के मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी संजीव सिंह ने बताया कि शासन के आदेशानुसार होली पर्व के सापेक्ष एक मार्च से 19 मार्च तक खाद्य सामानों के सैम्पलिंग की कार्रवाई की जा रही है। इसी क्रम में आज चौक थानांतर्गत खोआ मंडी में सैम्पलिंग की कार्रवाई की गई है। इस दौरान चार प्रतिष्ठानों से सैम्पलिंग की गई है। उन्होंने कहा कि आज शाम को सैम्पलिंग किए हुए नमूने जांच के लिये लैब में चले जाएंगे और शासन की मंशानुसार जल्द से जल्द रिपोर्ट भी आ जाएगी। यदि सैंपल मानक के विपरीत पाया जाएगा तो दुकानदारों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

वहीं जब उनसे पूछा गया कि किसी दूकान पर आप का विरोध भी हुआ तो उन्होंने हंसते हुए बस इतना ही कहा कि बनारस में यह कोई नयी बात नहीं है।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here