रायपुर : 2018 के विधानसभा चुनावों में जनता के द्वारा नकार दी गयी भारतीय जनता पार्टी षड्यंत्र, छल और बेमानी कर चुनाव परिणाम प्रभावित करने में जुटी हुई है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा की यही कारण है मतदान से ले कर स्ट्रांग रूम में ईवीएम की सुरक्षा में लगातार हो रही अनियमितता को जब जब भी कांग्रेस पार्टी चुनाव आयोग के सामने उठाती है अपनी पोल खुल जाने के भय से समूची भारतीय जनता पार्टी तिलमिला जाती है। अपने सरकार के कुशासन, भ्रस्टाचार, वायदाखिलाफी के कारण राज्य की जनता के बीच बुरी तरह अलोकप्रिय हो चुकी भाजपा अब बेईमानी पर उतर आई है। रोज-रोज बदलते मतदान के आंकड़ों और रोज रोज स्ट्रांग रूम में हो रही सेंधमारी पर आयोग की बजाय भाजपा के नेता और प्रवक्ताओ की सफाई देने अकुलाहट से साफ हो रहा है कि चोर की दाढ़ी में तिनका जरूर है। धमतरी, बेमेतरा, दुर्ग आदि में स्ट्रांग रूम की सुरक्षा में कोताही हुई है तो उसका जबाब विपक्षी दल आयोग से मांग रहा तो इसमें भाजपा क्यो आरोप प्रत्यारोप कर रही है ? सत्ता हाथ से निकल चुकी है यह जान कर भाजपा अपने सरकार  में होने के रुतबे का फायदा उठा कर कर्मचारियो और अधिकारियों पर अनुचित दबाव डालने निम्नतर स्तर तक गिर गयी है। आयोग के दफ्तर में अपने जायज मांगो को ले कर कांग्रेस जनो के साथ ज्ञापन पहुचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ जबरिया 144 का  एफआईआर को जायज बताने वाली भाजपा बताये की उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मालवीय रोड में 144 होने के बाद रैली और जयस्तम्भ चौक में बिना अनुमति के कैसे सभा कर दिया? अमित शाह के ऊपर 144 का उलंघन करने का एफआईआर क्यो नही दर्ज हुआ? राजनैतिक सूचिता की बड़ी बड़ी बातें कमीशनखोर नान घोटाले, अगस्ता घोटाले पनामा पेपर के आरोपीयो के मुंह से शोभा नही देती। भाजपाई जनादेश में डकैती डालने की कितनी भी जुगत कर ले जनता ने अबकी बार परिवर्तन के लिए मतदान किया है। 11 दिसम्बर को राज्य में दो तिहाई बहुमत के साथ कांग्रेस की सरकार बनने जा रही।

Untitled-3 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here