रायपुर : कांग्रेस ‘द एक्सीडेंटल प्राईममिनिस्टर‘ फिल्म का विरोध नही करती है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी अनर्गल प्रलाप बंद करे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने साफ कहा है कि छत्तीसगढ़ के सिनेमा घरों में इस फिल्म के प्रदर्शन पर किसी प्रकार की रोक नहीं है, और न भविष्य में रोक लगाई जायेगी। कांग्रेस पार्टी अभिव्यकित की स्वतंत्रता का सम्मान करती हैै। कांग्रेस की विचारधारा में असहिष्णुता का कोई स्थान नही है। असहिष्णुता और फासीवादी चरित्र भाजपा और राष्ट्रीय स्वंय सेवक संध का रहा है। जो अपनी आलोचना बर्दास्त नहीं कर सकते तथा अपनी विचारधारा से इतर आने वाले विचारो का विरोध करते रहे है। देश ने समय-समय पर देखा है, किस प्रकारी भारतीय जनता पार्टी और संघ के लोग उनके फासीवादी विचारधारा का विरोध करने वालो के खिलाफ जहर उगलते रहे है। आज भी देश की प्रबुद्ध वर्ग भाजपा के इसी अतिवादी चरित्र के कारण खुद को असहज और असुरक्षित महसूस कर रहा है। समय-समय पर देश के ख्यातिनाम लेखकों, पत्रकारो, कलाकारो ने मोदी सरकार के असहिष्णु रवैय्ये के कारण अपने लब्ध प्रतिष्ठित पुरस्कारों तक को वापस कर दिया है। स्वतंत्र भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है। विचारो और समाचारों तथा समाचार माध्यमों पर भी मोदी सरकार ने अघोषित प्रतिबंधित लगा रखा है।
‘द एक्सीडेंटल प्राईम मिनिस्टर‘ देखने के बाद छत्तीसगढ़ और देश का प्रबुद्ध दर्शक वर्ग खुद निर्णय लेगा कि इस फिल्म में कितनी तटस्थता बरती गयी है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के आर्थिक उदारीकरण, रोजगार को कानून की गांरटी देने वाला मनरेगा 14 वर्ष तक के बच्चों को शिक्षा के अधिकार का कानून आर.टी.ई आम आदमी के शसक्तीकरण के लिये सूचना का अधिकार, भू-अधिग्रहण कानून, फुड सिक्यूरिटी बिल, सड़को पर रोजगार करने वाले के लिये वेन्डर प्रोटेक्शन एक्ट जैसे कानून कांग्रेस पार्टी की सरकार और मनमहोन सिंह जैसा इमानदार, संवेदनशील और मजबूत प्रधानमंत्री ही बना सकता है। जीएसटी ओर नोटबंदी देश को बर्बाद करने वाले नरेन्द्र मोदी इस देश के लिये आफत प्रधानमंत्री जरूर साबित हुये है।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here