भोपाल| लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद चुनाव आयोग ने एक्शन दिखाना शुरू कर दिया है| अधिकारी कर्मचारियों को लापरवाही करना भारी पड़ सकता है| मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने पहली बड़ी कार्रवाई करते हुए दो अधिकारियों पर गाज गिराई है| राज्य शासन ने भिण्ड और पन्ना जिलों के प्रभारी जिला आबकारी अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है|परिवहन विभाग ने दोनों अधिकारियों के खिलाफ यह कार्रवाई की है। इन पर अवैध शराब को लेकर कार्रवाई करने में लापरवाही बरतने के आरोप हैं।

राज्य शासन ने भिण्ड और पन्ना जिलों के प्रभारी जिला आबकारी अधिकारियों आर.एस.मिश्रा तथा इन्द्रजीत सिंह चौहान को निलंबित कर दिया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा लोक सभा चुनाव-2019 के सिलसिले में ली गई आबकारी विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान उपरोक्त अधिकारियों द्वारा अवैध शराब को लेकर अपेक्षित कार्यवाही के प्रति लापरवाही बरते जाने की बात सामने आई थी। इसके मद्देनजर संबंधित अधिकारियों के निलंबन की कार्यवाही की गई है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने आबकारी विभाग से कार्रवाई करने कहा था, जिस पर विभाग ने दोनों अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। निलबंन अवधि में आर.एस. मिश्रा का मुख्यालय संभागीय उड़नदस्ता कार्यालय ग्वालियर तथा इन्द्रजीत सिंह चौहान का मुख्यालय संभागीय उड़नदस्ता कार्यालय सागर निर्धारित किया गया है।

Untitled-3 copy
1
Untitled-1 copy
Untitled-1 copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here